How to healthy in Hindi | स्वस्थ रहने का जरिया

How to become healthy in easy way in Hindi. Here you will know in Hindi to how become healthy in simple way.

जैसा की दोस्तों हम सभी जानते है की जिंदगी में स्वस्थ रहना बहुत महत्वपूर्ण है| और हम इसके लिए बहुत कोशिश भी करते है| मैंने बहुत सारे लोग देखे है जो खुद को स्वस्थ रखने के लिए लाखों रुपये खर्च करते है, बहुत मेहनत भी करते है| कुछ लोग ऐसे भी होते है जो बीमार पड़ने तक इंतजार करते है| उन्हें लगता है की, क्यों इतनी मेहनत उठाये, क्यों इतना समय गवाए| लेकिन एक बात याद रखना के स्वस्थ के लिये दिया हुआ हर एक समय और पैसा कभी बेकार नहीं जाता|

हम समझ सकते है की कुछ लोग समय ना मिलने से या फिर व्यायाम करने की इच्छा ना होने से स्वास्थ का ख्याल नहीं रख पाते| लेकिन सोचो अगर मै आपको कुछ ऐसे तरीके बताऊ की जिससे आपको कुछ करने की जरुरत नहीं और फिर भी आप स्वस्थ रहे तो? जिहां मै आपको कुछ ऐसे तरीके बताने वाला हु जिसे अगर आप अपने जिंदगी मे इस्तेमाल करेंगे तो आप बिना किसी इतर कोशिशोंके बिना स्वस्थ रह सकते है| तो चलिए बिना किसी देरी के हम देखते है की कैसे|

१. एक गिलास पानी ज्यादा पीना (Health in Hindi-water)

देखो दोस्तों पानी पिने के बहुत सारे फायदे है अगर मै उन्हें समझाने लग जाऊ तो यह बाते कभी ख़तम नहीं होगी| इंसान हो या जानवर पानी के बिना यह सृष्टि भी नहीं टिक सकती| हमारा शरीर अधिकतम पानी से बना है जिससे हम यह समज सकते है के पानी कितना महत्वपूर्ण है हमारे लिए| बहुत सारे लोग ऐसे है जो दिनभर में अपने शरीर के जरुरत के हिसाब से पानी नहीं पीते| तो ऐसे मे आपको बहुत सारी बीमारियों का सामना करना पड सकता है|

पानी पीने से आपकी रोगप्रतिकारक शक्ति बढ़ जाती है, आपका खाना पचन होने में पानी बहुत महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है| आपके हर शरीर के हिस्से को पानी की जरुरत  है तो आप जितना ज्यादा पानी पायेंगे उतना आपके स्वस्थ के लिए अच्छा है|

२. अपने खाने में हरी सब्जीयोंका सेवन करना (Health in Hindi- green veg)

अब यहाँ पे कुछ लोग कहेंगे के हम तो रोज सब्ज़ियाँ खाते है लेकिन मै बात कर रहा हु कुछ ऐसे सब्जियों के बारे मे जैसे के पालक, मैथी, अन्य| आज कल के लोगों को मसालेदार और चटपटा खाना बहुत पसंद है| इससे मन भर जाता है पेट भी भर जाता है लेकिन आपका स्वास्थ नहीं भरता| आज के बहुत सारे लोग जीने के लिए नहीं खाते, बल्कि खाने के लिए जीते है| तो उन्हसे यह निवेदन है की तुम जीने के खाओ या खाने के लिए जिओ लेकिन हरी सब्जिया बिलकुल मत भूलना|

३. खाने के बाद १० मिनट चलना (Health in Hindi-walking)

अब तो यह पूरी दुनिया जानती है की खाने के बाद चलना स्वास्थ के लिए लाभदायक होता है| लेकिन मै आपको एक सलाह देना चाहूंगा की खाना होने के तुरंत बाद चलने मत जाइये, पहले थोड़ा आराम करिये उसके बाद चलने के लिए जाइये| यह मेरा खुदका अनुभव है के खाने के तुरंत बाद चलने से पेड़ दर्द कर सकता है तो हमेशा याद रखना के चलिए जरूर पर खाने के तुरंत बाद नहीं ५-१० मिनट बाद|

४. हमेशा आधा घंटा जल्दी सोने के लिए जाना (Health in Hindi-sleep)

वैसे तो यह बात आजके ज़माने में बहुत मुश्किल है| मैंने बहुत लोग देखे है जो रोज जल्दी सोने का प्लान करते है पर कभी जल्दी सो नहीं पाते, आज कल की यह बहुत बड़ी समस्या है| अगर आप जल्दी नहीं सोये तो आपकी नींद पूरी नहीं हो पायेगी और अगर आपकी नींद पूरी नहीं हुई तो आपको बड़ी आसानी से बीमारिया लग सकती है| जिन महाशय को बीमार पड़ना हो उन्हें मै ना सोने की सलाह देता हु यह तरकीब जरूर काम करेगी| और अगर आपको बीमारियोंसे दूर रहना हो तो आपकी नींद पूरी करने की मै आपको सलाह देता हु| हम जब सोते है तो हमारे  सारे शरीर के भाग सोते है मतलब आराम करते है| और हमारे हर एक शरीर के भाग को आराम की जरुरत है| तो अगर आपको अच्छी और पूरी नींद लेनी हो तो हमेशा समय से आधा घंटा जल्दी सोने के लिए जाए|

५. हमेशा सीढीयों का इस्तेमाल करे

आज कल के भाग दौड़ की जिंदगी में इंसान को उसके स्वास्थ से ज्यादा काम की पड़ी है इसलिए जब जरुरत ना हो तब भी वह सिढीयोंसे ज्यादा लिफ्ट का इस्तेमाल करता है| हमें यह समझना होगा की लिफ्ट किस लिए बनी है| जब आपको सच में जरुरत हो तो लिफ्ट का इस्तेमाल जरूर करना चाहिए लेकिन आज कल लोगों को इसकी आदत पड गयी है| देखो दोस्तों मै यह नहीं कहता की लिफ्ट इस्तेमाल मत करो लेकिन यह जरूर कहता हु की लिफ्ट की आदत मत लगाओ| सीढिया आपको एक्सरसाइज करने का एक बहुत आसान जरिया है| आप कहीं पर भी जाये आपको सीढिया जरूर मिलेगी तो क्यों आप इस बात का फायदा नहीं उठाते? क्योंकि इसमें किसी का भी नुकसान नहीं है और  उप्पर से आप ही का फायदा है|

६.  हर रोज खुदको  परखना सीखे

जो इंसान रोज खुदको परखता है वह हमेशा सही और गलत रास्तोके बारे मे सतर्क रहता है| आप भी जरा सोचिये की अगर आपको आज कुछ अलग महसूस हो रहा हो तो आपको समझ आ जायेगा की कुछ गलत हो रहा है और उसे आप ठीक भी कर सकते है| रोज खुद को परखने से आप खुदके स्वास्थ के प्रति सतर्क रहते है| इस वजह से आप खुद के स्वास्थ का ज्यादा ख्याल रख पाएंगे| तो हमेशा खुद को परखने की आदत लगाइये इससे आपको ही फायदा होगा|

७. सही ढंग से बैठना या खड़े रहना

देखो दोस्तों हम हर रोज जिस तरीके से बात करते है, खड़े रहते है, बैठते है इससे हमारी जिंदगी की एक आदत बन जाती है| अब आप बहार कही बैठने या खड़े होने का क्लास तो नहीं लगा सकते| लेकिन ऐसे बहुत सारे लोग है जो आज खुद को सही ढंग से बैठने और खड़े रहने की आदत लगा रहे है| एक बात समझने जैसी है की जो भी लोग सही तरीके से खड़े रहते है वह बस उनकी बचपन के सही आदतों की वजह से| क्योंकि हमें इस दुनिया में सबके साथ रहकर काम करना है और एक अच्छा सही प्रभाव उनपर डालना है तो आज से ही सही तरीके से बैठने की और खड़े रहने की आदत लगाइये|

८. सुबह में हमेशा स्वस्थ से भरा नाश्ता करना

आज कल लोग भाग दौड़ में नाश्ता भी सिर्फ पेट को भरने के  करते है लेकिन आपको एक बात समझनी होगी की नाश्ता करने का असली  उद्देश्य खुद को ज्यादा अच्छा और उपयुक्त आहार देने के लिए होता है| जैसा की हम सभी जानते है की दिन का सबसे पहला आहार हमारे शरीर के किये सबसे ज्यादा महत्वपूर्ण होता है| दोपहर और रात का खाना भी इतना महत्वपूर्ण नहीं होता जितना सुबह का नाश्ता होता है| क्योंकि आप जो सुबह  खाते है उससे आपको पुरे दिन की ऊर्जा मिल जाती है और वही खाना आपको ९०-९५% पचन होता है| तो यही बेहतर है की आप सुबह का नाश्ता सबसे पौष्टिक और उपयुक्त आहार के साथ करिये|

निष्कर्ष

तो दोस्तों ऊपर दिए गए सारे उपाय आपको मददगार साबित होंगे  सबसे अच्छी बात यह है की इसके लिए आपको अलग से कुछ भी नहीं करना है| आप की जो भी जिंदगी या दिनचर्या है उसमे ही आपको इन्हे मिलाना है| बहुत ही महत्वपूर्ण बात बताना चाहूँगा दोस्तों के, अगर हमें अपने दिनचर्या से कुछ अलग करना पड़ता हो तो इसके लिए मेहनत और समय निकलना पड़ता है लेकिन यहाँ पर आपको अलग से कुछ भी नहीं करना है, आपके जो रोज के आदते है उसमे इन्हे मिलाओ बस|

और पढ़िए: तो यह है स्वस्थ रहने का सबसे आसान जरिया
Also read: Simple healthy habits for a busy life

Posted in स्वास्थ्य हिंदी में.

2 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *